Swachh Bharat Mission (SBM) : देश के लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना, देखे कैसे

Swachh Bharat Mission (SBM) : स्वच्छ भारत मिशन  ( Swachh Bharat Mission ) भारत सरकार द्वारा 2014 में खुले में शौच को खत्म करने और ठोस अपशिष्ट प्रबंधन में सुधार करने के लिए शुरू किया गया ! एक देशव्यापी अभियान है ! यह 2009 में शुरू किए गए निर्मल भारत अभियान का एक पुनर्गठित संस्करण है ! जो अपने इच्छित लक्ष्यों को प्राप्त करने में विफल रहा !

Swachh Bharat Mission (SBM) 

Swachh Bharat Mission

Swachh Bharat Mission

स्वच्छ भारत, स्वच्छ यात्रा प्राप्त करने के प्रयासों में तेजी लाने और स्वच्छता पर ध्यान केंद्रित करने के लिए ! पर्यटन मंत्रालय ने 9 दिसंबर, 2015 को स्वच्छ भारत मिशन   (Swachh Bharat Mission ) के लिए एक परियोजना निगरानी इकाई की स्थापना की है ! अभियान (Swachh Bharat Abhiyan ) का उद्देश्य स्वच्छ और स्वच्छ पर्यटन स्थलों को प्राप्त करना है जो आकर्षित करते हैं अधिक विदेशी और घरेलू पर्यटक ! एसबीएम डिवीजन पर्यटकों, स्कूल / कॉलेज के छात्रों और पर्यटन हितधारकों के बीच स्वच्छता जागरूकता गतिविधियों का समन्वय करता है !

Advertisement

Swachh Bharat Mission (SBM) के कार्य

स्वच्छ भारत मिशन की कार्यप्रणाली का वर्णन निचे किया गया है !

  • इस अभियान ( Swachh Bharat Abhiyan ) के सचिवालय के रूप में कार्य करना !
  • स्वच्छ भारत मिशन (Swachh Bharat Mission ) से संबंधित रणनीतियां तैयार करने में सहायता !
  • एमओटी के विभिन्न प्रभागों के साथ साझेदारी में शुरू की गई परियोजनाओं की निगरानी !
  • कार्यान्वित की जा रही परियोजनाओं का निरीक्षण; राज्य एजेंसियों के माध्यम से पहल को आगे बढ़ाने के लिए बैठकों !
  • सम्मेलनों और कार्यशालाओं सहित उपयुक्त माध्यमों के माध्यम से अन्य मंत्रालयों !
  • राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों और हितधारकों के साथ बातचीत !
  • संसदीय मामलों में भाग लें !
  • स्वच्छ भारत अभियान/स्वच्छता समीक्षा/स्वच्छता कार्य योजना (एसएपी)/ई-समीक्षा/सीपीजीआरएएमएस वेबसाइट/पोर्टल को अद्यतन करने के लिए !

स्वच्छता कार्य योजना ( Swachhta Action Plan )

पर्यटन मंत्रालय ने पर्यटकों, स्कूल/कॉलेज के छात्रों और पर्यटन हितधारकों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए ! एक स्वच्छता कार्य योजना ( Swachhta Action Plan ) तैयार की है ! निम्नलिखित तीन प्रमुख गतिविधियां स्वच्छता कार्य योजना ( SAP ) के तहत की जा रही हैं !

गतिविधि-1 जागरूकता अभियान चलाकर पर्यटक/तीर्थयात्री केंद्रों पर पर्यटकों को स्वच्छता और स्वच्छता के बारे में जागरूकता पैदा करना !

गतिविधि- 2 तालुक स्तर के स्कूल/कॉलेज के छात्रों और उनके स्थानों में स्वच्छता गतिविधियों का आयोजन-प्रशिक्षकों के लिए अभियान/प्रशिक्षण/एनसीसी/एनएसएस कोर की भागीदारी/स्थानीय युवा क्लब आदि !

गतिविधि-3 पर्यटन केंद्रों, तीर्थ केंद्रों, प्रसिद्ध पुरातत्व स्मारकों/मंदिरों, किलों, चर्चों, मस्जिदों, पवित्र मकबरों, गुरुद्वारों आदि के हितधारकों के साथ संगोष्ठियों/सम्मेलनों/कार्यशालाओं का आयोजन ! और खुले में शौच को रोकने और राहत देने पर जोर देने वाले चिन्हित/चयनित स्थलों का आयोजन जनता में या सड़क के किनारे !

स्वच्छता पखवाड़ा 

  • पर्यटन मंत्रालय ( MOT ) ने देश भर के पर्यटन स्थलों पर स्वच्छता बनाए रखने के उद्देश्य से स्वच्छता पखवाड़ा नामक एक पाक्षिक जागरूकता अभियान चलाकर स्वच्छता पर जागरूकता अभियान चलाया है !
  • इस वर्ष कोविड-19 महामारी के कारण पर्यटन मंत्रालय ने अपने भारत पर्यटन कार्यालयों, भारत पर्यटन विकास निगम (आईटीडीसी) और मंत्रालय के तहत संस्थानों के माध्यम से देश भर में वेबिनार, दृश्य-श्रव्य आदि के माध्यम से वीसी मोड पर 16 से 30 सितंबर, 2020 तक स्वच्छता पखवाड़ा गतिविधियों का आयोजन किया था !
  • पर्यटन मंत्रालय के तहत आने वाले शैक्षणिक संस्थानों जैसे आईआईटीटीएम, आईएचएम आदि ने भी अपने-अपने कार्यस्थल/संस्थान पर सभी कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन करते हुए ! विभिन्न स्वच्छता गतिविधियां कीं और इस मंत्रालय को तस्वीरों के साथ रिपोर्ट भेजी ! इस तरह देश की पूरी लंबाई और चौड़ाई को कवर किया गया था !
  • इस प्रकार मंत्रालय देश में पर्यटन के प्रतिष्ठित स्थलों सहित पर्यटन स्थलों के संबंध में ! स्वच्छ भारत ( Swachhta Bharat ) को सफल बनाने के लिए हर संभव कार्रवाई करने का प्रयास कर रहा है !

स्वच्छता Hi सेवा 

पर्यटन मंत्रालयने देश भर के पर्यटन स्थलों पर स्वच्छता बनाए रखने ! और सिंगल यूज प्लास्टिक (एसयूपी) के उन्मूलन के उद्देश्य से स्वच्छता पर एक अभियान चलाया है ! जिसके तहत “स्वच्छता ही सेवा” नामक एक गहन स्वच्छता अभियान ( Swachhta Abhiyan ) चलाया गया है ! हमारे दैनिक जीवन में प्लास्टिक के अनुचित निपटान के हानिकारक प्रभावों के बारे में जागरूकता पैदा की !

पर्यटन मंत्रालय ने अपने भारत पर्यटन कार्यालयों, भारत पर्यटन विकास निगम (आईटीडीसी) और पर्यटन मंत्रालय के तहत ! शैक्षिक संस्थानों के माध्यम से पूरे देश में विभिन्न पर्यटन, तीर्थ स्थलों और समुद्र तटों पर स्वच्छता अभियान / जागरूकता अभियान / पोस्टर बनाने और नारा लेखन अभियान आदि का आयोजन किया था !  पूरे देश में विभिन्न स्थानों पर आयोजित अभियान में सिंगल यूज प्लास्टिक (SUP) के उन्मूलन के विषय के तहत 517 गतिविधियों को शामिल किया गया ! ये स्वच्छता गतिविधियां महात्मा गांधी के 150 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित की गई थीं !

यह भी जाने  :- Pradhan Mantri Gram Sadak Scheme : इस योजना से प्रत्येक गांव में होगा सड़कों का निर्माण, जाने सम्पूर्ण जानकारी

PM Jan Dhan Account 2022 : खाताधरकों को मिलेंगे 1.30 लाख के लाभ, जानें कैसे पाएँ राशि

Join Whatsapp Group : सभी लेटेस्ट जानकारी के लिए Whatsapp Group से जुड़े