Kisan Dhan Arogyam Yojana : अब चमकेगी किसानों की किस्मत, सरकार ने शुरू की नयी योजना, देंखे डिटेल

Kisan Dhan Arogyam Yojana : किसान धन आरोग्यम योजना सीएसआर कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी के तहत देश के गरीब किसानों ( Farmer ) के कल्याण के लिए बनाई गई एक योजना है। यह एक निजी संगठन ए3एन इट सर्विसेज (ओपीसी) प्राइवेट लिमिटेड, गाजियाबाद, राज्य के श्री नीरज कुमार यादव की एक पहल है। यह योजना क्या है, आप ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं और किसान धन आरोग्य योजना ( Kisan Dhan Arogyam Yojana ) फॉर्म 2022 कैसे भरें, साथ ही आपको योजना के बारे में पूरी जानकारी यहां मिलेगी, इसलिए इस लेख को अंत तक पढ़ें।

Kisan Dhan Arogyam Yojana

"<yoastmark

भारत एक कृषि प्रधान देश है जहाँ अधिकांश गाँव के लोग कृषि पर निर्भर हैं। देश की 70% आबादी कृषि से संबंधित गतिविधियों में लगी हुई है। किसान ( Farmer ) की समृद्धि और प्रगति देश की समृद्धि और प्रगति के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए केंद्र सरकार ऐसी सभी योजनाओं को प्रोत्साहित और समर्थन करती है जो किसानों की मदद के लिए बनाई जाती हैं। किसान धन आरोग्य योजना ( Kisan Dhan Arogyam Yojana ) ऐसी ही एक योजना है कि देश के 920 गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) के सहयोग से उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद स्थित एक निजी संगठन ए3एन इट सर्विसेज को जनवरी 2020 में पूरे देश में लागू किया गया।

Advertisement

भारत सरकार कॉरपोरेट्स की सामाजिक जिम्मेदारी को गंभीरता से देख रही है और 1 अप्रैल 2014 को भारत दुनिया का पहला देश बन गया जिसने सीएसआर यानी कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी को कानूनी जनादेश दिया। इस सीएसआर फंड किसान धन आरोग्य योजना ( Kisan Dhan Arogyam Yojana ) की मदद से पूरे देश के किसानों को विभिन्न सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।

मानव धन आरोग्यम योजना उन किसानों ( Farmer ) की मदद करती है जिन्होंने खेती के लिए कर्ज लिया है। यह योजना उन्हें सूखे और बाढ़ की परेशानी से भी बचाती है। उनके स्वास्थ्य और फसलों की सुरक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करता है।

Kisan Dhan Arogyam Yojana के मुख्य उद्देश्य

किसान धन आरोग्यम योजना ( Kisan Dhan Arogyam Yojana ) को सफल बनाने के लिए यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस एंड इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर कोऑपरेटिव लिमिटेड (इफको) पूरा सहयोग दे रहा है। किसान ( Farmer ) हमारे देश की शान हैं। लेकिन सभी किसान समृद्ध नहीं हैं। हमारे देश के कई किसानों के पास खेती करने के लिए खेत तक नहीं है। वे दूसरों के खेतों में बुवाई और कटाई का काम करते हैं। छोटे किसान कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं। इस समस्या के कारण कुछ किसान हार मान कर आत्महत्या कर लेते हैं।

देश और राज्यों की सरकारें गरीब किसानों ( Farmer ) को गरीबी से उबारने के लिए हर संभव प्रयास करती रहती हैं। निजी क्षेत्र के संगठन और गैर सरकारी संगठन भी योगदान करते हैं। केंद्र सरकार के निर्देश पर निजी कंपनियां सीएसआर (कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी) फंड के जरिए किसानों की मदद करती हैं। ए3एन इट सर्विसेज और इस योजना से जुड़े गैर सरकारी संगठनों को देश के गरीब और भूमिहीन किसानों तक किसान धन आरोग्यम योजना ( Kisan Dhan Arogyam Yojana ) का लाभ पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए।

किसान धन आरोग्यम योजना की विशेषताएं

गरीब किसान ( Farmer ) के आर्थिक बोझ को कम करने के लिए। उन्हें स्वास्थ्य, जीवन और फसलों में वित्तीय सहायता प्रदान करना। किसान और उसके परिवार को बीमा का लाभ देना। किसान की आय को स्थिर करने की व्यवस्था करना ताकि उसे खेती की प्रक्रिया में किसी भी तरह की बाधा का सामना न करना पड़े। किसानों को नई और आधुनिक कृषि पद्धतियों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना। यह सुनिश्चित करना कि कृषि क्षेत्र में ऋण का प्रवाह बेरोकटोक जारी रहे।

फसल हानि सहायता सुविधा। किसानों की अथक मेहनत के बावजूद कभी-कभी खराब मौसम या अन्य अप्रत्याशित कारणों से फसल खराब हो जाती है और उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ता है। ऐसे समय में फसल बीमा के माध्यम से किसानों ( Farmer ) को आर्थिक मदद देना। महिला किसानों को कम कीमत में उपकरण देकर प्रोत्साहित करना। किसानों को कम कीमत पर भोजन उपलब्ध कराकर उनके आर्थिक बोझ को कम करना।

किसान धन आरोग्यम योजना के लाभ

मेडिकल क्लेम के लिए 25000, 3 लाख का दुर्घटना बीमा, 1.5 लाख का फसल बीमा, एक साल में अधिकतम रु. 50,000 खेती के लिए बहुत कम लागत पर ऋण। *भूमिहीन किसानों ( Farmer ) के लिए 2 साल में 24000 रुपए की आर्थिक सहायता। महिला किसानों के लिए कृषि उपकरण पर 30% तक सब्सिडी ( Subsidy )।* जैविक खाद्य सब्सिडी कंपनी द्वारा जैविक खाद्य सब्सिडी।* कृषक समुदाय के लिए कृषि संगठन !

यह भी जाने :- Kanya Suraksha Yojana 2022 : बेटियों को मिलेंगे 51000 रुपये, ऐसे उठाये योजना का लाभ

PM Kisan Khad Scheme : किसानों को खाद के लिए मिलेंगे 11000 रुपये, यहाँ करे ऑनलाइन अप्लाई

Rajasthan Jan Aadhaar Card Registration : राजस्थान जन आधार कार्ड पंजीकरण शुरू, जल्द बनवाएं