Solar Pump Connection Yojana : किसानों को मिला मोका, 90% सब्सिडी पर लगवाएं सोलर पंप कनेक्शन

Solar Pump Connection Yojana : किसानों को मिला मोका, 90% सब्सिडी पर लगवाएं सोलर पंप कनेक्शन : प्रधानमंत्री कुसुम योजना ( PM Kusum Yojana ) के तहत किसानों ( Farmer ) को बड़ी सौगात मिलेगी। सौर ऊर्जा ( Solar Energy ) को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। कृषि सिंचाई में सोलर पंप ( Solar Pump ) सेटों को बढ़ावा देने के लिए सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा 75 प्रतिशत अनुदान के साथ 20 हजार सोलर पंप कनेक्शन प्रदान किए जा रहे हैं। सोलर पंप सेट ( Solar Pump Sets ) लगाने के लिए किसान 30 अगस्त को सुबह 11 बजे सरल पोर्टल SaralHaryana.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Solar Pump Connection Yojana

"<yoastmark

प्रधानमंत्री कुसुम योजना ( PM Kusum Yojana ) के तहत किसानों ( Farmer ) के डीजल-पेट्रोल से चलने वाले पंपों को सोलर पावर पंप ( Solar Pump ) में बदलने का काम शुरू हो गया है. इस योजना की घोषणा पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने की थी। किसानों ( Farmer ) को सिंचाई के अच्छे साधन उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री कुसुम योजना शुरू की गई थी। योजना के लिए सरकार की ओर से 34,422 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है.

प्रधानमंत्री कुसुम योजना ( PM Kusum Yojana ) का उद्देश्य किसानों ( Farmer ) को सौर ऊर्जा ( Solar Energy ) पंप स्थापित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। कई राज्य ऐसे हैं जहां पानी की कमी के कारण फसलें खराब हो जाती हैं। अन्यथा किसान सोलर पैनल ( Farmer Solar Panel ) नहीं लगा पा रहा है। इन्हीं समस्याओं को ध्यान में रखते हुए योजना के तहत सरकार की ओर से सोलर पैनल लगाए जाएंगे। ये सोलर पैनल बिजली भी पैदा करेंगे, जिसका इस्तेमाल किसान अपने घरों में कर सकते हैं और सरकार को अतिरिक्त बिजली भी बेच सकते हैं। PMKY से किसानों की आय भी बढ़ेगी।

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए पात्रता शर्तें

सूक्ष्म विधि या पाइपलाइन से कृषि की सिंचाई करने वाले किसान ( Farmer ) ही सब्सिडी ( Subsidy ) के साथ सोलर पंप सेट ( Solar Pump Sets ) लगाने के पात्र होंगे। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज और पात्रता शर्तें निर्धारित की गई हैं। इसमें आवेदक के नाम पारिवारिक पहचान पत्र, बिजली पंप कनेक्शन नहीं होना चाहिए।

इसके साथ ही आवेदक के नाम से जमाबंदी या कृषि भूमि का फर्द, सूक्ष्म सिंचाई या पाइपलाइन स्थापित की जानी चाहिए। इसके प्रमाण में स्थापना से पहले पंप की स्थापना के लिए एक हलफनामा और घोषणा-सह-फर्म चयन पत्र (संलग्न) शामिल है। किसान, गौशालाएं, जल उपयोगकर्ता संगठन और समुदाय या समूह आधारित सिंचाई समूह आवेदन करने के पात्र हैं।

केवल सरकारी अधिकृत कंपनी का चयन करना

सरकार द्वारा अधिकृत कंपनी को आवेदक द्वारा ऑनलाइन चुना जाना है। देय राशि आपके वर्चुअल बैंक खाते में जमा की जाएगी (जो प्रत्येक आवेदक के लिए अलग होगी) एनईएफटी या आरटीजीएस के माध्यम से आवेदन पत्र के साथ चालान में उल्लिखित है। इसके बाद ही पुन: सरल पोर्टल पर जाकर भुगतान की पुष्टि कर आवेदन पूर्ण किया जाएगा। अधिक जानकारी के लिए स्थानीय जिला विकास भवन के प्रथम तल पर स्थित अपर उपायुक्त के कार्यालय कक्ष संख्या 114-115 पर संपर्क किया जा सकता है ( PM Kusum Yojana )।

यह भी जानें :- Add Member in Ration Card : राशन कार्ड में किसी भी सदस्य का नाम जोड़ना हुआ असान, देखें ऑनलाइन प्रॉसेस

PM Kisan New Updates : 12वीं क़िस्त पति पत्नी दोनों को मिलेंगी, देंखे पीएम किसान योजना का नया अपडेट