Kusum Solar Plant Scheme : अप्लाई करें सोलर प्लांट, पीएम मोदी की नई योजना पर सरकार देगी 90% सब्सिडी

Kusum Solar Plant Scheme अप्लाई करें सोलर प्लांट, पीएम मोदी की नई योजना पर सरकार देगी 90% सब्सिडी : कुसुम सोलर प्लांट (Kusum Solar Plant) मोदी सरकार ने किसानों (Farmers) की मदद के लिए एक और बड़ी योजना शुरू की है, इस योजना के तहत किसान सोलर प्लांट लगवा सकते हैं, जिससे वे सिंचाई के काम और बिजली के उत्पाद बेच सकें। पीएम किसान जैसी बड़ी योजना शुरू करने के बाद मोदी सरकार ने किसानों के लिए सोलर सिस्टम सोलर प्लांट लगाने की योजना (PM Kusum Yojana) को भी मंजूरी दे दी है ! कैबिनेट ने मंगलवार को इस योजना (Solar Panel Subsidy Scheme) को मंजूरी दी थी। इस योजना का नाम कुसुम यानी कृषि ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान रखा गया है।

Kusum Solar Plant Scheme

Kusum Solar Plant Scheme

Kusum Solar Plant Scheme

इस योजना से किसान (Farmer) न सिर्फ अपने खेतों में सिंचाई का काम कर सकेंगे, बल्कि सोलर प्लांट से बिजली पैदा कर उसे बेचकर कमाई भी कर सकेंगे ! इसके लिए किसानों को सिर्फ 10% पैसा ही देना होगा।

कुसुम सौर संयंत्र योजना क्या है? (Kusum Solar Plant Scheme)

भारत में किसानों (Farmers) की सिंचाई के लिए कई समस्याएं हैं, बारिश की कमी के कारण कई बार किसानों की फसल बर्बाद हो जाती है। इस योजना (PM Kusum Yojana) के तहत सरकार सोलर प्लांट देगी। इस योजना के माध्यम से किसान न केवल अपनी जमीन में सौर ऊर्जा (Solar Energy) उपकरण और पंप लगाकर अपनी कृषि की सिंचाई कर सकेंगे, बल्कि इससे उत्पन्न होने वाली अतिरिक्त बिजली को अपने गांव के लोगों को देकर कमाई भी कर सकेंगे. मकान की जमीन खाली है तो सोलर प्लांट लगवाएं कंपनी बिजली खरीदने के पैसे देगी।

कुसुम सोलर प्लांट के तहत पहला बदलाव

बता दें कि कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) के पहले चरण में डीजल से चलने वाले पंपों को बदला जाएगा, सरकार के एक अनुमान के मुताबिक ऐसे 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा (Solar Energy) से संचालित किया जाएगा. इससे डीजल की खपत कम होगी और कच्चे तेल के आयात पर अंकुश लगाने में भी मदद मिलेगी।

कुसुम सोलर प्लांट लगाने के लिए कहां से आएगा पैसा?

अगर यह केंद्र सरकार की योजना है तो यह हर राज्य के लिए मान्य है।

  • कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) के तहत किसान को सोलर पैनल की कुल लागत का 10% निवेश करना होगा।
  • 30 फीसदी पैसा केंद्र सरकार सब्सिडी के तौर पर देगी।
  • 30 प्रतिशत ऐसा राज्य सरकार सब्सिडी (Subsidy) के रूप में देगी।
  • और शेष 30 प्रतिशत बैंक से ऋण ले सकते हैं, सरकार किसानों (Farmers) को ऋण दिलाने में मदद करेगी।

इस योजना से कितनी बिजली बचाई जा सकती है

इस योजना (Kusum Solar Plant Scheme) को लेकर सरकार का मानना ​​है कि अगर देश के सभी सिंचाई पंपों को सोलर पंपों से बदल दिया जाए तो इससे न सिर्फ बिजली की बचत होगी, बल्कि 28 हजार मेगावाट अतिरिक्त बिजली का उत्पादन भी संभव होगा. कुसुम सोलर प्लांट योजना (PM Kusum Yojana) के अगले चरण में सरकार किसानों (Farmers) को अपने खेतों में सोलर पैनल लगाकर सौर ऊर्जा (Solar Energy) बनाने की अनुमति देगी। इस योजना के तहत सरकार किसानों को 10,000 मेगावाट ऊर्जा के सोलर प्लांट उपलब्ध कराएगी।

किसानों को दो तरह से होता है लाभ

कुसुम सोलर प्लांट इस योजना (Kusum Solar Plant Scheme) से किसानों (Farmers) को दोनों तरफ से लाभ मिलेगा। एक तो उन्हें सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली मिलेगी और दूसरी बात वे सोलर प्लांट से अतिरिक्त बिजली पैदा कर ग्रिड को भेज सकेंगे और उससे कमाई भी कर सकेंगे !

यह भी जाने – Kisan Credit Card 2022 Update : आज से किसान क्रेडिट कार्ड की नयी ब्याज दर जारी, जाने नई ब्याजदर

Leave a Comment