Kisan Karj Rahat Yojana : किसानों को मिलेगा 1 लाख तक की कर्जमाफी का लाभ, जानिए किसे मिलेगा लाभ

Kisan Karj Rahat Yojana : आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana ) का लाभ सिर्फ उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) के किसान उठा सकते हैं। सरकार का लक्ष्य इस योजना से 86 लाख किसानों को लाभ पहुंचाना है। राज्य और केंद्र सरकार किसानों ( Farmer ) की मदद करने और उनकी आय बढ़ाने के लिए विभिन्न योजनाएं लेकर आती रहती है। किसानों को इन योजनाओं का लाभ समय पर मिले इसके लिए सरकार कुछ न कुछ नई योजनाएं लेकर आती रहती है।

Kisan Karj Rahat Yojana

"<yoastmark

उन्हीं में से एक है योजना का नाम उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana )। इस योजना का लाभ राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) के किसानों को दिया जाता है। कई बार किसान ( Farmer ) बैंकों से कर्ज लेते हैं और किसी आपदा या बारिश के कारण उनकी फसल बर्बाद हो जाती है।

ऐसे में किसानों ( Farmer ) को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) सरकार ने वर्ष 2017 में किसानों की कर्जमाफी की योजना शुरू की थी। इस उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana ) के तहत सरकार किसानों का कर्ज माफ करती है। तो आइए जानते हैं इस योजना के बारे में-

किन किसानों को मिलता है इस योजना का लाभ –

  1. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana ) का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के किसान ही उठा सकते हैं।
  2. इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार के छोटे और सीमांत किसान ( Farmer ) आवेदन कर सकते हैं।
  3. इस योजना के तहत सरकार द्वारा किसानों का 1 लाख तक का कर्ज माफ किया जाता है।
  4. योजना की तरह, सरकार का लक्ष्य 86 लाख किसानों को लाभान्वित करना है।
  5. इस योजना के वे किसान ही आवेदन कर सकते हैं जो खेती के अलावा और कोई काम नहीं करते हैं।

किसान ऋण राहत योजना का लाभ लेने के लिए ये दस्तावेज हैं:

  1. आवश्यक – आधार कार्ड – किसान से संबंधित दस्तावेज की भूमि
  2. – उत्तर प्रदेश अधिवास –
  3. पहचान पत्र
  4. – बैंक पासबुक
  5. -मोबाइल नंबर -पासपोर्ट
  6. आकार फोटो

ऐसे करें अप्लाई

इस उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana ) को शुरू करने के पीछे सरकार की मंशा है कि वह छोटे किसानों ( Farmer ) की आर्थिक मदद कर उन्हें सशक्त बना सके। इस योजना का लाभ लेने के लिए आप इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते है।

यह भी पढ़ें :- PM-KISAN Yojana Installment : 12वीं किस्त के लिए लिस्ट में अपना नाम कैसे चेक करें, देंखे

Kisan Karj Rahat Yojana:

उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) की योगी आदित्यनाथ सरकार अन्नदाताओं की बेहतरी के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. अत्याधुनिक कृषि यंत्र उपलब्ध कराकर किसानों ( Farmer ) को आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं, सही दाम पर फसल खरीद कर अब पांच साल से इंतजार कर रहे 33,408 किसानों को कर्जमाफी का लाभ देने की तैयारी कर रहे हैं. कृषि विभाग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विस्तृत प्रस्ताव भेज रहा है। मुहर लगने के बाद प्रदेश के 19 जिलों के किसानों का 200 करोड़ का कर्ज माफ किया जाएगा.

किसानों ( Farmer ) का कर्ज माफ करने के लिए योगी सरकार ने 9 जुलाई 2017 को उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana ) लागू की थी. इसमें छोटे और सीमांत किसानों का एक लाख रुपये तक का कर्ज माफ किया गया ताकि किसान बिना फसल लिए खेती कर सकें. ऋण। वेबसाइट पर किसानों से ऑनलाइन आवेदन लिए गए। करीब 86 लाख किसानों का कर्ज माफ किया जा चुका है, लेकिन 33,408 किसान अभी भी अधर में हैं।

यह भी पढ़ें :- PM Yojana : योजना से साल में 6,000 रु. का लाभ लेने वाले किसानों को भविष्य में 42,000 रु. आर्थिक सहायता

Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana

19 जिलों के इनमें से अधिकतर किसान ( Farmer ) सामान्य वर्ग के हैं। अकेले अयोध्या जिले में उत्तर प्रदेश किसान कर्ज राहत योजना ( Uttar Pradesh Kisan Karj Mafi Yojana ) का लाभ नहीं लेने वालों की संख्या 3,934 है। उनका आवेदन और अन्य प्रक्रिया पूरी हो चुकी है, सरकार से पैसा मिलने का रास्ता देखा जा रहा है. इन किसानों की कर्जमाफी के लिए करीब 200 करोड़ रुपये की जरूरत है। हाईकोर्ट ने इस मामले में सरकार से जवाब भी मांगा है।