Kadaknath Poultry Farming : कडकनाथ मुर्गी पालन के लिए मिलेंगा अनुदान, किन्हें मिलेगा लाभ

Kadaknath Poultry Farming : कडकनाथ मुर्गी पालन के लिए मिलेंगा अनुदान, किन्हें मिलेगा लाभ : सरकार देश भर में स्वरोजगार के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। इसके लिए सरकार समय-समय पर विभिन्न योजनाओं को लागू करती रही है। इन योजनाओं में से कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Farming Yojana ) लागू की गई है। यह योजना राज्य के लोगों के लिए स्वरोजगार में सहायक होगी। इसके माध्यम से कड़कनाथ मुर्गी पालन ( Kadaknath Poultry Farming ) पर अनुदान दिया जाएगा। जानिए इस योजना के बारे में..

Kadaknath Poultry Farming

"<yoastmark

कड़कनाथ ( Kadaknath ) का वैज्ञानिक नाम गैलस गैलस डोमेस्टिकस है। कड़कनाथ पक्षी मुर्गे की एक देशी नस्ल है जिसे ब्लैक मासी और ब्लैक गोल्ड के नाम से जाना जाता है। इसका उद्गम अलीराजपुर जिले की काठीवाड़ा तहसील में माना जाता है। यह पक्षी मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh ) के पश्चिमी जिलों मुख्य रूप से झाबुआ, अलीराजपुर और धार के विभिन्न क्षेत्रों में पाया जाता है। यह पक्षी पश्चिमी मध्य प्रदेश के अलावा यहां से सटे क्षेत्र में आता है, जो गुजरात और राजस्थान राज्य की सीमा में है। यह पक्षी भी वहीं पाया जाता है।

Kadaknath Poultry Farming Scheme

कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Farming Yojana ) पशुपालन विभाग, मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh ) सरकार द्वारा 01-08-2009 को लागू की गई है। यह योजना राज्य के सभी जिलों में लागू की जा रही है। इस योजना के तहत 40 कड़कनाथ ( Kadaknath ) चूजों को 28 दिनों तक बिना लिंग भेदभाव के साथ ही अनाज और दवाइयाँ उपलब्ध कराने का प्रावधान है।

योजना का उद्देश्य

कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Yojana ) का मुख्य उद्देश्य लाभार्थियों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने और मुर्गी पालन ( Poultry Farmings ) के माध्यम से कड़कनाथ नस्ल को बचाने के लिए इस योजना को लागू किया गया है।

Kadaknath Poultry Farming से कमा सकते हैं अच्छा पैसा

देश भर में बढ़ती आबादी के साथ अंडे और चिकन की मांग भी बढ़ गई है। कड़कनाथ चिकन 900 से 1200 रुपये किलो बिक रहा है। जहां देसी मुर्गा 700 रुपए किलो तक बिकता है। कड़कनाथ मुर्गे ( Kadaknath Murga ) के एक अंडे की कीमत करीब 50 रुपये है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति कड़कनाथ मुर्गी पालन ( Kadaknath Poultry Farming ) करता है तो वह अच्छी कमाई कर सकता है।

कौन ले सकता है योजना का लाभ

राज्य सरकार द्वारा लागू कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Yojana ) सभी श्रेणी के लाभार्थियों के लिए है। जैसे गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले या वरिष्ठ नागरिक, नागरिक या शिक्षार्थी आदि।

Kadaknath Poultry Farming का लाभ

अनुदान पर कड़कनाथ चूजों की आपूर्ति कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Farming Yojana ) की कुल इकाई लागत 4400 रुपये, सभी श्रेणियों के लिए 75 प्रतिशत अनुदान, 3300, लाभार्थी योगदान, 25 प्रतिशत, 1100 रुपये, इस योजना के तहत 40 कड़कनाथ चूजों को बिना लिंग के 28 दिनों तक प्रदान किया जाएगा।

योजना की कुल इकाई लागत

  • बिना लिंग के 28 दिन 40 चूजों की कीमत 65 रुपये प्रति चूजा 2600 रुपये है।
  • दवा या टीकाकरण 200 रुपये प्रति चूजा 5 रुपये।
  • परिवहन (चिक बॉक्स सहित) 210 रुपये।
  • प्रति पक्षी 48 ग्राम पोल्ट्री फीड की दर से 30 दिनों के लिए कुल 1390 रुपये प्रतिदिन।
  • डाइट 58 किलो 24 रुपये प्रति किलो।
  • कुल लागत 4400 रुपये।

आवेदन कैसे करें

कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Farming Yojana ) में आवेदन करने के लिए आवेदक को अपने नजदीकी पशु चिकित्सा संस्थान से संपर्क करना होगा। कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना ( Kadaknath Poultry Yojana ) का लाभ लेने वाले हितग्राही के आवेदन की बिन्दुवार स्वीकृति की प्रक्रिया ग्राम सभा में पूर्ण करें। जनपद पंचायत की बैठक में ग्राम सभा द्वारा स्वीकृत हितग्राहियों की स्वीकृति। जनपद पंचायत की स्वीकृति उपरांत जिला पंचायत की कृषि स्थायी समिति की बैठक में अनुमोदन प्राप्त करना।

यह भी जानें :- PM Kisan KYC Not Updated : हजारों किसानों को 12वीं किस्त नहीं मिलेगी, KYC का आसान तरीका जानिए

Manarega kuaan Nirman Scheme : किसान मनरेगा योजना से फ्री में कुंवा निर्माण करवाएं, जानिए प्रक्रिया

Ration Card Add Members : राशन कार्ड में नए सदस्य का नाम घर बैठे जोड़ें, ये है प्रक्रिया बहुत आसान

Post Office MIS Account : इस योजना में 10 साल से अधिक उम्र के बच्चों को 2,500 रुपये प्रति माह मिलेंगे

Leave a Comment