बेटी के खाते में आएंगे 50000 रुपये, पढ़ाई का खर्च सरकार देगी अलग, बस करना है ये छोटा सा काम

Bhagya Laxmi Yojana 2022 : उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) की योगी सरकार ने बेटियों के लिए एक विशेष योजना उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) शुरू की है। इस योजना के तहत राज्य में बेटी के जन्म पर माता-पिता को कुछ राशि आर्थिक सहायता के रूप में दी जाती है। इसके साथ ही सरकार बेटी की पढ़ाई में भी मदद करती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में कन्या भ्रूण हत्या और लिंगानुपात को रोकना है।

Bhagya Laxmi Yojana 2022

"<yoastmark

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) विशेष रूप से ऐसे परिवारों के लिए शुरू की गई है जो आर्थिक रूप से बहुत कमजोर हैं। अगर आपके घर में हाल ही में एक बेटी का जन्म हुआ है और आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको सरकार की कुछ शर्तों का पालन करना होगा, जिसे पूरा करने के बाद आप इस योजना का लाभ उठा सकेंगे। भाग्य लक्ष्मी योजना ( Bhagya Laxmi Yojana ) क्या है और इसका लाभ कैसे उठाया जा सकता है, आइए जानते हैं सब कुछ विस्तार से…

यह भी जानें :- KVP Maturity : रकम दुगुनी करने के लिए सबसे अच्छी स्कीम, ढाई साल में ले सकते हैं मेच्योरिटी का पैसा

Bhagya Laxmi Yojana 2022 क्या है?

उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) का लाभ गरीबी रेखा से नीचे यानि बीपीएल कार्ड धारकों को ही दिया जाता है। यह योजना बेटी के जन्म से ही सक्रिय हो जाती है और 21 वर्ष की आयु में परिपक्व हो जाती है। सबसे पहले तो बेटी के पैदा होते ही मां को बेटी के लिए 5100 रुपए दिए जाते हैं, ताकि पालन-पोषण में कोई दिक्कत न हो। इसके साथ ही बीच-बीच में सरकार बेटी को उसकी पढ़ाई के लिए भी पैसे देती रहती है।

भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए पंजीकरण कैसे करें?

इस उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) के तहत रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर ( CSC ) यानी ई-मित्र केंद्र पर जाना होगा। खास बात यह है कि इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन भी बिल्कुल फ्री है।

यह भी जानें :- UP Vidhwa Pension 2022 : विधवा पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए यहां करे आवेदन, मिलता है इतना पैसा

भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी?

इस उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) के लिए आपके पास यूपी ( Uttar Pradesh ) निवास प्रमाण पत्र, बेटी का जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता का आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, घर का पता प्रमाण, बैंक खाता विवरण होना चाहिए।

यह भी जानें :- Jeevan Anand Policy 2022 : इस पॉलिसी में हर महीने 1400 रुपये जमा करें, पाएं 25 लाख रु का लाभ, जानिए

भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ कैसे प्राप्त करें?

  1. सरकार बेटी के जन्म पर 50,000 रुपये का बांड देती है।
  2. यह बॉन्ड 21 साल बाद मैच्योर होकर 2 लाख का हो जाता है।
  3. इसके अलावा बेटी के जन्म के समय उसकी परवरिश के लिए मां को अलग से 5100 रुपये दिए जाते हैं।
  4. बेटी के छठी कक्षा में आने पर उसके खाते में 3,000 रुपये जमा हो जाते हैं।
  5. कक्षा 8 में पहुंचने पर 5,000 रुपये का लाभ दिया जाता है।
  6. दसवीं कक्षा में पहुंचने पर बेटी के खाते में सात हजार रुपये जमा किए जाते हैं।
  7. 12वीं कक्षा में आने पर सरकार द्वारा 8,000 रुपये का योगदान दिया जाता है।

भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए पात्र

इस उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) का लाभ केवल बीपीएल परिवारों की बेटियों को ही मिलता है, जिनकी आय दो लाख प्रति वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

यह भी जानें :- Best Low Cost Business Ideas : कम लागत में गांव में रहने वालों के लिए बेस्ट बिजनेस आइडियाज, पढ़े यहाँ

UP Bhagya Laxmi Yojana 2022 के लिए शर्तें

यह लाभ केवल उन्हीं बेटियों को मिलता है, जिनका जन्म 2006 के बाद हुआ है। बेटी के जन्म के एक माह के भीतर आंगनबाडी केंद्र में पंजीयन कराना अनिवार्य है। बेटी की शिक्षा सरकारी स्कूल में हो। बेटी की शादी 18 साल से पहले नहीं होनी चाहिए। सरकारी कर्मचारी को इस उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना ( Uttar Pradesh Bhagya Laxmi Yojana ) का लाभ नहीं मिलेगा।