UP Election 2022 : UP चुनाव से पहले यूपी में विपक्षी दलों को बड़ा झटका, ये बड़े नेता BJP से जुड़े

UP Election 2022 : चुनाव से पहले यूपी में विपक्षी दलों को बड़ा झटका, ये बड़े नेता BJP से जुड़े | यूपी इलेक्शन 2022 (UP Election 2022) का अगले साल की शुरूआत में आगज होने जा रहा है. ऐसे में उत्तर प्रेदश (Uttar Pradesh Election) की सभी छोटी-बड़ी पार्टियां अपने दमखम दिखानी की पूरी कोशिश कर रहे हैं. इसके अलावा सियासी दलों के बीच में दल-बदल का काम भी शुरू हो गया है. इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश में कई विपक्षी दलों को बड़ा झटका लगा है |

UP चुनाव से पहले यूपी में विपक्षी दलों को बड़ा झटका, ये बड़े नेता BJP से जुड़े

चुनाव से पहले यूपी में विपक्षी दलों को बड़ा झटका

चुनाव से पहले यूपी में विपक्षी दलों को बड़ा झटका

दरअसल, यूपी सरकार के दो पूर्व मंत्रियों समेत कई प्रमुख नेताओं ने रविवार को BJP का हाथ थाम लिया है. जानकारी के लिए बता दें कि इन मंत्री और नेताओं ने BJP के राज्य मुख्यालय में पार्टी की सदस्यता ली. वहीं BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (BJP State President Swatantra Dev Singh) ने नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई. साथ ही इस बात का दावा किया कि उनके आने से संगठन और मजबूत होगा.

Advertisement

UP Election 2022 : इन नेताओं ने थामा BJP का दामन

रविवार को BJP मुख्यालय में यूपी के पूर्व मंत्री और सुलतानपुर जिले में तीन बार विधायक रहे जयनारायण तिवारी और गाजीपुर के पूर्व विधायक और अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली समाजवादी पार्टी (Uttar Pradesh Samajwadi Party) सरकार में मंत्री रहे विजय मिश्रा, बसपा (BSP) के वरिष्ठ नेता रहे मनोज दिवाकर, जगदेव कुरील, सेवानिवृत्त आईएएस अशोक कुमार सिंह, अधिवक्ता राम शिरोमणि शुक्ल, उन्नाव के पूर्व BSP प्रत्याशी धर्मेंद्र पांडेय.

इसके साथ ही अजीतमल विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक मदन गौतम, अयोध्या के कुंवर अभिमन्यु प्रताप सिंह और लखीमपुर के अखिलेश वर्मा ने BJP की सदस्यता ग्रहण कर ली है. सदस्यता लेने के बाद नेताओं ने कहा कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pradhan Mantri Narendra Modi) और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) की नीति से प्रभावित होकर पार्टी में शामिल हुए हैं.

पीएम मोदी ने कही ये बात

Uttar Pradesh Election 2022 : जयनारायण तिवारी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्रीपति मिश्र के प्रतिनिधि और योजना आयोग के उपाध्यक्ष भी रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pradhan Mantri Narendra Modi) ने 16 नवंबर को सुलतानपुर जिले में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के उद्घाटन समारोह में पूर्व मुख्‍यमंत्री श्रीपति मिश्र को स्मरण करते हुए बिना नाम लिए कांग्रेस पार्टी (Congress Party) पर आरोप लगाया था कि ‘परिवार’ के दरबारियों ने श्रीपति मिश्र को अपमानित किया है.

Also Read – UP Election 2022 : धर्मेंद्र प्रधान ने कहा- इस बार मोदी और योगी सरकार की उपलब्धियों पर होगा चुनाव

महापंचायत में तंज कसते नजर आए पूर्व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर, बीजेपी के लिए कही ये बड़ी बात

UP Election 2022 : 2017 में हारी हुई सीटों के लिए बीजेपी ने बनाई रणनीति, ऐसे करेंगे आगाज

UP Election 2022 : BJP को सत्ता से हटाने के लिए हर दल से गठबंधन को तैयार हैं अखिलेश यादव