UP Election 2022 : अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर करेंगे बीजेपी का सफाया – अखिलेश यादव

UP Election 2022 : अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर करेंगे बीजेपी का सफाया – अखिलेश यादव | संविधान दिवस (Constitution Day) के मौके पर शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Part) के प्रमुख और उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Former Chief Minister Akhilesh Yadav) ने रैली में जाकर जन सभा को संबोधित किया, जिसके दौरान उन्होंने बीजेपी (BJP) के खिलाफ काफी दावे किए. खिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने प्रदेश से बीजेपी की सरकार को उड़ाख फैकने तक का दावा किया है. खिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने संबोधन के दौरान दावा किया कि ‘अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर 2022 में बीजेपी का सफाया कर देंगे’.

अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर करेंगे बीजेपी का सफाया – अखिलेश यादव

अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर करेंगे बीजेपी का सफाया - अखिलेश यादव

अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर करेंगे बीजेपी का सफाया – अखिलेश यादव

सपा प्रमुख अखिलेश यादव (SP chief Akhilesh Yadav) शुक्रवार को कांशीराम स्मृति उपवन सांस्कृतिक स्थल में ‘संविधान बचाओ महाआंदोलन’ (Save the Constitution) राष्‍ट्रीय मंच द्वारा आयोजित ‘भारतीय संविधान दिवस समारोह व संविधान बचाओ विराट महापंचायत’ को बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए. जहां उन्होंने जन सभा को संबोधित करते हुए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर जमकर निशाना साधा और कहा कि ‘लोकतंत्र में जो जनता को दुख देता है, समय आने पर जनता उनसे हिसाब किताब करती है. इसलिए जनता ने फैसला किया है कि इस बार बीजेपी का सफाया होगा. इस बार अंबेडकरवादी और समाजवादी मिलकर इन्‍हें हटा देंगे’.

Advertisement

UP Election 2022 : 2019 में सपा ने किया था बसपा से गठबंधन 

इसके अलावा सपा प्रमुख अखिलेश यादव (SP chief Akhilesh Yadav) ने संबोधित करते हुए कहा कि ‘ये कोई नया नहीं है, बाबा साहेब के साथ डॉ. राममनोहर लोहिया मिलकर काम करना चाहते थे. फ‍िर से हम लोगों ने कोशिश की पर वह सपना पूरा नहीं हुआ, लेकिन हमने उम्मीद नहीं छोड़ी है और 2022 में यह सपना जरूर पूरा होगा’.

जानकारी के लिए बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव (UP Lok Sabha Elections 2019) में अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बसपा प्रमुख मायावती (BSP chief Mayawati) से गठबंधन किया था, लेकिन सपा प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों (80 Lok Sabha Seats) में महज पांच सीटों पर सिमट गई जबकि बसपा (BSP) को दस सीटों पर जीत मिली थी.

इन सभी बड़े नेताओं ने किया कार्यक्रेम में शिरकत

‘संविधान बचाओ महाआंदोलन’ (Save the Constitution) के मौके पर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के अलावा बाबा साहेब अंबेडकर (Babasaheb Ambedkar) के पौत्र और पूर्व सांसद प्रकाश आंबेडकर, भीमराव यशवंत राव अंबेडकर, बसपा संस्थापक कांशीराम की बहन स्‍वर्ण कौर, सपा गठबंधन में शामिल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्‍यक्ष ओमप्रकाश राजभर, गठबंधन की एक अन्‍य साझेदार अपना दल (कमेरावादी) की प्रमुख नेता पल्‍लवी पटेल, पूर्व आयकर आयुक्‍त सुवचन राम समेत कई प्रमुख लोग शामिल हुए.

UP Election 2022 : बता दें कि साल 2014 में सावित्री बाई फुले ने भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर बहराइच लोकसभा क्षेत्र से चुनाव जीता और 2019 में आरक्षण और संविधान के मुद़दे पर उन्‍होंने बीजेपी (BJP) के खिलाफ विद्रोही रुख अपनाते हुए इस्‍तीफा दे दिया. इसके बाद वे मार्च 2019 में कांग्रेस (Congress) में शामिल हुईं, लेकिन दिसंबर 2019 में कांग्रेस से भी इस्तीफा दे दिया था.

Also Read – UP Election 2022 : 2017 में हारी हुई सीटों के लिए बीजेपी ने बनाई रणनीति, ऐसे करेंगे आगाज

UP Election 2022 : BJP को सत्ता से हटाने के लिए हर दल से गठबंधन को तैयार हैं अखिलेश यादव

UP Election 2022 : केशव प्रसाद मौर्य ने कहा ‘2022 ही नहीं 2027 में भी प्रचंड बहुमत से जीतेगी बीजेपी’

UP Assembly Election 2022 : महोबा में कल होगी प्रियंका गांधी की प्रतिज्ञा रैली, की जा रही तैयारियां