Health Benefits : स्वास्थ्य लाभ, चुकंदर के दुष्प्रभाव और कितना खाना चाहिए, जाने यहाँ एक नजर में

Health Benefits : बढ़ते कोविड संकट के चलते लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति अधिक जागरूक हो गए हैं। वे अपनी रसोई में फलों और सब्जियों, नट्स, अनाज, और बहुत कुछ जैसे स्वस्थ और ताजे खाद्य पदार्थों का ढेर लगा रहे हैं। नींबू लगभग किचन का स्टेपल बन गया है। एक और सब्जी जो आपने कई किचन में देखी होगी वो है चुकंदर।

Health Benefits

"<yoastmark

चुकंदर के स्वास्थ्य लाभ

चुकंदर, जिसे रक्त शलजम भी कहा जाता है, आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर एक जड़ वाली सब्जी है। इसे कहा जाता है:

ऊर्जा स्तर बढ़ाएँ

रक्तचाप को नियंत्रित करें

सूजन का मुकाबला

मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ाएं

उनकी कम वसा और सोडियम सामग्री और उच्च फोलेट और फाइबर सामग्री इसे एक पसंदीदा स्वस्थ सब्जी बनाती है। इनमें कैल्शियम होता है, जो मजबूत दांतों और हड्डियों को प्रोत्साहित करता है, और विटामिन के, जिसमें रक्त के थक्के बनाने के गुण होते हैं।

कुछ डॉक्टरों के अनुसार चुकंदर का रस पोषक तत्वों को बेहतर तरीके से अवशोषित करने में शरीर की सहायता करता है। फोलेट सामग्री के कारण, यह आयरन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है, इसलिए एनीमिक के लिए अच्छा है।

हालांकि, बहुत अच्छी चीज खराब हो सकती है।

यही हाल बीट्स का भी है।

चुकंदर के साइड इफेक्ट

चुकंदर ऑक्सालेट से भरपूर होता है, जो उच्च मात्रा में गुर्दे की पथरी का कारण बन सकता है। यह कैल्शियम के अवशोषण में भी बाधा डाल सकता है।

गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान चुकंदर का अधिक सेवन नुकसान पहुंचा सकता है।

यदि आप थक्कारोधी ले रहे हैं, तो आपको चुकंदर का सेवन सावधानी से करना चाहिए। कृपया डॉक्टर से सलाह लें।

कितना चुकंदर खाना है?

चुकंदर की खुराक आम तौर पर उनके नाइट्रेट सामग्री पर आधारित होती है। आदर्श सामग्री 6.4 और 12.8 मिलीग्राम प्रति किलो बीट्स के बीच है।

सामान्य शब्दों में कहें तो रोजाना एक कप (136 ग्राम) चुकंदर पर्याप्त है। अगर आप चुकंदर के जूस के शौकीन हैं तो रोजाना सिर्फ 200 मिली जूस लें।

एहतियात

चुकंदर को कच्चा खाते समय, सुनिश्चित करें कि आप उन्हें अच्छी तरह से धो लें, अधिमानतः गर्म पानी से।

चुकंदर को हफ्ते में सिर्फ 3-4 बार ही खाना अच्छा होता है, ज्यादा नहीं। यदि आप रोजाना खाते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप इसे सीमित मात्रा में ही खाएं क्योंकि इसमें ऑक्सालेट की मात्रा अधिक होती है।

मसालेदार चुकंदर में सोडियम की मात्रा अधिक होती है। अगर आपको हाइपरटेंशन है तो सीमित मात्रा में ही खाएं।

सामान्य चुकंदर की जगह बेबी बीट्स का छिलका खाएं। पहले वाले में कोमल त्वचा होती है, जो पचने में आसान होती है और इसमें उच्च फाइबर होता है।

डिब्बाबंद चुकंदर भी सोडियम से भरपूर होते हैं। इन्हें खाने से पहले पानी से धो लें।

नाइट्रेट सामग्री के कारण 10 महीने से कम उम्र के बच्चों को चुकंदर देने से बचें। अपने बच्चे को केवल 1-2 चम्मच उबले हुए या उबले हुए चुकंदर दें। फिर किसी भी प्रकार की एलर्जी देखने के लिए 4 दिनों तक प्रतीक्षा करें।

Health Benefits

कभी-कभी, स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए, हम अधिक मात्रा में स्वस्थ भोजन खा लेते हैं। यह अच्छे से ज्यादा नुकसान करता है। एक आम कहावत है, “अधिक मात्रा में सब कुछ जहर है।” संयम से भोजन करना स्वास्थ्य की कुंजी है। और अपने आहार में विविधता जोड़ना न भूलें। यह आपके शरीर को पोषक तत्वों की एक विस्तृत श्रृंखला प्राप्त करने में मदद करता है।

Health Tips : इन अद्भुत स्वास्थ्य लाभों को प्राप्त करने के लिए अभी से जैतून के तेल का उपयोग करना शुरू करें