IAS Success Story : परीक्षा के समय पर पिता को हुआ कैंसर, इन मुश्किल हालात को हरा कर रितिका ऐसे बनी IAS

IAS Success Story of Topper Ritika Jindal परीक्षा के समय पर पिता को हुआ कैंसर, इन मुश्किल हालात को हरा कर रितिका ऐसे बनी IAS : अब तक हमाने आपको काफी IAS और IPS बने अफसरों की दिलचस्प कहानियों के बारे में बताया है ! आज हम आपको एक ऐसी Indian Administrative Service (IAS) टॉपर लड़की के बारे में अफसर के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनको दो प्रयासों में सफलता हाथ नहीं लगी, लेकिन अपने तसीरे प्रयार में उन्होंने अपने नाम का इतिहास रच दिया !

IAS Success Story : परीक्षा के समय पर पिता को हुआ कैंसर, इन मुश्किल हालात को हरा कर रितिका ऐसे बनी IAS

IAS Success Story of Topper Ritika Jindal
IAS Success Story of Topper Ritika Jindal

ऐसा माना जाता है कि अगर आपको किसी भी लक्ष्य को पाना है तो उसके लिए आपकी फिजिकल और मेंटल हेल्थ अच्छी होनी चाहिए ! फिर चाहे वह दुनिया की कोई भी परीक्षा हो या कोई भी काम क्यों नहो ! जी हां, कुछ ऐसी ही स्तिथि का सामना पंजाब के मोगा की रहने वाली Ritika Jindal की ! बताया जाता है कि जब रितिका ने अपनी UPSC की तैयारी शुरू की, तब उनके पिता को कैंसर हो गता था, लेकिन फिर भी रितिका कभी कमजोर नहीं पड़ी !

रितिका ने ग्रेजुएशन में हासिल किए थे 95 प्रतिशत माक्स

Civil service की परीक्षा साल 2018 में सफलता हासिल करने वाली Topper Ritika Jindal पंजाब के मोगा की रहने वाली हैं ! एक इंटरव्यू के दौरान रितिका ने बताया कि उन्होंने शुरुआती पढ़ाई-लिखाई वहीं से पूरी की है ! इसके बाद उन्होंने दिल्ली के Shri Ram College से कॉमर्स में ग्रेजुएशन किया ! रितिका ग्रेजुएशन में 95 प्रतिशत माक्स हासिल किए थे ! ऐसे में UPSC exam में उन्होंने ऑप्शनल सब्जेक्ट के तौर Commerce और Accountancy को चुना !

अपने फेवरेट सब्जेक्ट में रितिका ने हासिल किए 500 में 300 अंक

इसके हबाद साल 2018 में UPSC exam में रितिका ने 88 रैंक हासिल किए ! उन्होंने अपने ऑप्शनल सब्जेक्ट Commerce और Accountancy में 500 में 300 अंक हासिल किए थे ! इतना ही नहीं इस परीक्षा को पास करने से पहले रितिका को कई मुश्किल परिस्थिति से गुजरना पड़ा ! रितिका बताती हैं कि जब वो पहली बार इस परीक्षा दे रही थी, तो उनके पिता को Tongue Cancer हो गया था ! इसके साथ ही जब रितिका दूसरी बार इस परीक्षा को देने वाली थी ! तब उनके पिता को Lung cancer हो गया था !

जब रितिका कर रही थी UPSC की तैयारी, तब पिता को हो गया कैंसर 

फिर भी इन मुश्लिक हालातों से भी रितिका ने हार नहीं मानी और अपन इरादों को मजबूत बनाए रखा ! उन्होंने इस हालात में भी आगे बढ़ना सीखा ! साथ ही पिता की बिगड़ती तबियत को देखते हुए ! रितिका ने ये तय किया कि दुख तो आपको रुलाने के लिए आएंगी ही लेकिन अगर आप मुस्कुराएंगे तो उससे लड़ने ही हिम्मत मिलेगी ! उन्होंने माना कि जिंदगी में उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं, लेकिन उनसे कभी हार नहीं माननी चाहिए ! रितिका ने ये सफलता केवल 22 साल की उम्र में हासिल की !

रितिका की UPSC को लेकर सलाह

Ritika अपनी सफलता को लेकर बताती हैं ! कि इस परीक्षा के पैटर्न को लोग समझ ले तो इसे आसानी से क्रैक कर सकते हैं ! साथ ही रितिका आगे बताती हैं कि इस परीक्षा को स्ट्रेटजी और मेहनत के तय करते हुए तैयारी करनी चाहिए ! अगर आप पढ़ रहे हैं तो केवल पढ़ने में ही नहीं बल्कि प्रैक्टिस करने पर भी ध्यान दें ! किसी भी चीज की पढ़ाई करें लेकिन आखिर में रिविजन करना मत भूलें !

बता दें कि रितिका बताती हैं ! कि इसके साथ ही आप जनरल न्यूज से खुद को अपडेट रखें, यही नहीं अगर आप कॉमर्स के छात्र हैं ! तो बिजनेस के न्यूज को जरूर पढ़ें ! इस परीक्षा में तैयारी के साथ आंसर राइटिंग भी उतनी महत्वपूर्ण है ! इन छोटी-छोटी टॉपिक को ध्यान में रखकर इस परीक्षा को आसानी से क्रैक कर सकते हैं !

यह भी पढ़ें:- IAS Success Story : 22 साल की उम्र में पहले अटेम्पट में पास की UPSC परीक्षा, जानें क्या है ट्रिक
Advertisement