Mushroom Farming Business : मशरूम की खेती का व्यवसाय शुरू करें और कमाए लाखो रूपए एक माह में, जानिए पूरा प्रोसेस

Mushroom Farming Business : मशरूम न केवल पोषण और औषधीय दृष्टिकोण से बल्कि निर्यात के लिए भी महत्वपूर्ण है ! इसके लिए बहुत कम जगह या भूमि की आवश्यकता होती है ! और इसलिए भूमिहीन और सीमांत भूमि धारकों के लिए इसका बहुत महत्व है ! मशरूम उत्पादन में आय पैदा करने वाली गतिविधि के रूप में जबरदस्त क्षमता है ! यह सूर्य के प्रकाश से स्वतंत्र बढ़ता है, कार्बनिक पदार्थों पर फ़ीड करता है और इसके लिए उपजाऊ मिट्टी की आवश्यकता नहीं होती है ! फर्श के अलावा, हवा की जगह का भी उपयोग किया जाता है ! जिसके परिणामस्वरूप उच्च उत्पादकता होती है ! मशरूम की खेती ( Mushroom Farming Business ) उन किसानों को अतिरिक्त आय प्रदान कर सकती है ! जो विशेष रूप से अपने दुबले मौसम में इस गतिविधि को करना चाहते हैं !

Advertisement

Mushroom Farming Business

Mushroom Farming Business

Mushroom Farming Business

इस उद्यम का सबसे बड़ा फायदा यह है कि मशरूम में पौष्टिकता से भरपूर गेहूं या धान के पुआल जैसे पोषक पदार्थों को पौष्टिक व्यंजनों में बदलने की क्षमता होती है ! यह गोबर और चिकन खाद जैसे कृषि अपशिष्टों के पुनर्चक्रण में भी सक्षम बनाता है ! जो अन्यथा प्रदूषण की समस्या पैदा कर रहे हैं ! मशरूम एक कवक शरीर है जिसमें कोई क्लोरोफिल नहीं है ! और, यह एक परजीवी पौधा है ! यह भोजन प्राप्त करने के लिए अन्य जीवित या मृत पौधों पर निर्भर करता है !

मशरूम प्रोटीन, विटामिन, खनिज, फोलिक एसिड का एक उत्कृष्ट स्रोत है ! और एनीमिक रोगियों के लिए लोहे का एक अच्छा स्रोत है ! मशरूम में 19 से 35 फीसदी प्रोटीन होता है जो कि अधिकांश सब्जियों और अनाज से अधिक होता है ! इसकी प्रोटीन की गुणवत्ता पशु प्रोटीन के रूप में अच्छी है ! इसके अलावा, लाइसिन और ट्रिप्टोफैन प्रोटीन जो सब्जियों और अनाज में अनुपस्थित हैं ! मशरूम के माध्यम से प्राप्त किए जा सकते हैं !

Advertisement

मशरूम विभिन्न प्रकार के होते हैं

  • बटन मशरूम
  • ढींगरी (सीप) मशरूम
  • धान स्ट्रा मशरूम

मशरूम की खेती का व्यवसाय ( Mushroom Farming Business ) कुछ ही हफ्तों में बहुत लाभदायक हो सकता है ! इसके अलावा, लाभ के लिए अपने खुद के व्यवसाय ( Business ) की बढ़ती सीप मशरूम शुरू करना काफी आसान है !

सामग्री की आवश्यकता

1. पुआल और स्पॉन

अनाज की पुआल ताजा सुनहरा पीला धान का पुआल सांचों से मुक्त और बारिश के संपर्क में न आने वाली सूखी जगह में संग्रहित होता है ! संस्कृति शुरू करने के लिए आपको एक स्पॉन की आवश्यकता होगी ! आप बाँझ संस्कृति का उपयोग करके अपने स्वयं के स्पॉन का उत्पादन कर सकते हैं ! या आप रेडी-टू-टोकेट स्पॉन खरीद सकते हैं ! जो आपूर्तिकर्ताओं द्वारा किए जाते हैं ! आपको सब्सट्रेट खरीदने की भी आवश्यकता होगी ! कई उत्पादक पुआल या लकड़ी के चिप्स का उपयोग करते हैं ! स्ट्रॉ आमतौर पर पसंदीदा तरीका है ! आप स्ट्रॉ चाहते हैं जो छोटे टुकड़ों में कटा हो सकता है !

2. 400 गेज मोटाई की प्लास्टिक शीट

अब स्ट्रॉ और स्पॉन के साथ प्लास्टिक बैग पैक करने का समय आ गया है ! दो या तीन इंच पुआल को प्लास्टिक की थैली में पैक करें और फिर हल्के से शीर्ष पर स्पॉन छिड़कें ! इसे तब तक दोहराएं जब तक आप बैग को लगभग भर न दें, बैग में ऊपर और प्रहार छेद बंद कर दें !

Advertisement

3. लकड़ी का साँचा

45x30x15 सेमी के लकड़ी के साँचे का आकार प्रत्येक में कोई ऊपर या नीचे नहीं होता है ! लेकिन एक अलग लकड़ी का आवरण 44×29 सेमी होता है !

  • भूसा काटने के लिए हैंड चॉपर या चैफ कटर !
  • उबलते पुआल (न्यूनतम दो) के लिए ड्रम !
  • जूट की रस्सी, नारियल की रस्सी या प्लास्टिक की रस्सी
  • गन्नी की थैलियाँ
  • स्पॉन या मशरूम संस्कृति जो प्रत्येक ब्लॉक या पंजीकृत विक्रेताओं के लिए सहायक
  • रोग विशेषज्ञ, मशरूम विकास केंद्र के कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है !
  • छिड़कनेवाला यंत्र स्ट्रॉ स्टोरेज शेड -10X8 मीटर आकार !
Advertisement

Leave a Comment